सीडीओ ने की विकास कार्यों की समीक्षा -दिए आवश्यक निर्देश

देवरिया अशुतोष तिवारी
सीडीओ ने की विकास कार्यों की समीक्षा -दिए आवश्यक निर्देश
कार्यों के मासिक समीक्षा के दौरान मुख्य विकास अधिकारी रवींद्र कुमार ने यह स्पष्ट रूप से जुड़े अधिकारियों को निर्देश दिया है कि किसी भी दशा में जनपद की रैंकिंग प्रभावित नहीं होनी चाहिए। इस लिए रैंकिंग वाले कार्य बिंदुओं में विशेष रूप से प्रयास करते हुए शत-प्रतिशत लक्ष्य पूर्ति व बेहतर प्रगति सुनिश्चित करेंगे तथा विकास कार्यों को तत्परता के साथ संपादित करेंगे । साथ ही निर्माण कार्यों को गुणवत्ता समयबद्धता व मानक के अनुरूप उसे तय समय सीमा के अंदर ही पूर्ण करेंगे, इसमें किसी भी प्रकार की कोई शिथिलता नहीं बरतेंगे।
मुख्य विकास अधिकारी श्री कुमार विकास भवन के गांधी सभागार में विकास एवं निर्माण कार्यों की प्रगति समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने परिवार नियोजन में कम प्रगति पर कड़ी नाराजगी जताई । नोडल अधिकारी डॉ0 बी0पी सिंह को स्पष्टीकरण जारी किए जाने के निर्देश दिए। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि इसकी सतत निगरानी की जा रही है अप्रैल से अब तक एक भी डिलीवरी व नसबंदी नही कराने वाली आशा कार्यकत्रीयो की सूची तैयार की जा रही है ऐसे चिन्हित आशा कार्यकत्रीयो की सेवाएं समाप्त करने की भी कार्रवाई की जाएगी। मुख्य विकास अधिकारी ने हेल्थ वेलनेस सेंटर बनाए जाने में शिथिलता एवं धनराशि अवमुक्त नहीं किए जाने के लिए संबंधित अवर अभियंता व लेखा प्रबंधक को स्पष्टीकरण दिए जाने को कहा । सीएमओ ने बताया कि दवाओं की पर्याप्त उपलब्धता है। 102 एंबुलेंस की जनपद के सभी तहसीलों में एक ही समय माकड्रील कराए जाने हेतु मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कहा। जननी सुरक्षा, गोल्डन कार्ड एवं निर्माणाधीन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों की भी समीक्षा की और कार्यों में सुधार लाने के निर्देश दिए।
मुख्य विकास अधिकारी ने सामुदायिक शौचालय,ऑपरेशन कायाकल्प ,पंचायत भवन, प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी एवं ग्रामीण की भी प्रगतिओं का जायजा लेते हुए निर्देश दिया की जिन खंड विकास अधिकारियों का आवास निर्माण कार्य 95% से कम की प्रगति है उनका भी वेतन रोकने की कार्यवाही की जाए। राष्ट्रीय आजीविका मिशन में समूह गठन पर बल दिया। जल जीवन मिशन, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के भी कार्यों को समयबद्धता के साथ पूर्ण किए जाने को कहा।
मुख्य विकास अधिकारी ने मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत सभी खंड विकास अधिकारियों को 50-50 आवेदन पत्र 20 नवंबर तक समाज कल्याण अधिकारी को उपलब्ध कराए जाने का निर्देश दिया । इसके साथ ही उन्होंने गन्ना मूल्य भुगतान की प्रगति में अब तक की भुगतान पर असंतोष जताया तथा शीघ्रता के साथ भुगतान किए जाने का निर्देश दिया। कौशल विकास मिशन, खादी ग्राम उद्योग में भी सुधार लाए जाने का निर्देश दिया। मुख्य विकास अधिकारी ने आइजीआरएस प्रकरणों का निस्तारण गुणवत्ता पूर्ण किए जाने के निर्देश देते हुए कहा कि शिकायतकर्ता से फीडबैक लिए जाएंगे इस लिए प्रयास हो कि शिकायतकर्ता असंतुष्ट न रहे। उन्होंने यह भी कहा कि जिन विभागों का अब तक विभिन्न प्रकरणों में फीडबैक सही नहीं प्राप्त हुआ है वे आगे से इसमें विशेष रुप से ध्यान देंगे और संतोषजनक रूप से निस्तारण सुनिश्चित करेंगे।
बैठक में सीएमओ डॉ0आलोक पांडेय, पीडी संजय पांडेय,उपायुक्त एन आर एल एम बीएस राय, बीएसए संतोष राय, जिला कार्यक्रम अधिकारी कृष्ण कांत राय, डीएसटीओ मनोज कुमार श्रीवास्तव, मृत्युंजय चतुर्वेदी ,दिव्यांगजन सशक्तिकरण अधिकारी मीनू सिंह ,अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी नीरज अग्रवाल सहित खंड विकास अधिकारी, सीडीपीओ गण आदि उपस्थित रहे।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *