"समकालीन कवयित्रियाँ,लोकप्रिय कविताएं" का अरावली पर्वत श्रृंखला से सटे भगत फार्म्स में लोकार्पण सम्पन्न-डॉ कीर्ति काले।


श्री बाल स्वरूप राही जी के संकल्पना और लक्ष्मीशंकर बाजपेई जी के संपादन में कल्पना प्रकाशन के द्वारा पूरे देश से पांच कवयित्रियों की पुस्तकों का भव्य लोकार्पण हरियाणा के सोहना अरावली पर्वत श्रृंखलाओं के साथ स्थित भगत फार्म्स के प्राकृतिक वातावरण में सफलता पूर्वक सम्पन्न हुआ। इस कार्यक्रम में श्रीमती पुष्पा राही,डॉ कीर्ति काले,श्रीमती निशा भार्गव और नमिता राकेश जी के पुस्तकों की शृंखला का भव्य लोकार्पण हुआ।कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रेरणा दर्पण साहित्यिक एवं सांस्कृतिक मंच के संरक्षक डॉ सी एम भगत ने की,कार्यक्रम का संचालन डॉ कीर्ति काले ने किया वहीं अतिथि के रुप में लक्ष्मीशंकर बाजपेई और कल्पना प्रकाशन से देवेंद्र जी सम्मिलत हुए।कार्यक्रम में इन पुस्तकों के संकल्पनाकार बाल स्वरूप राही जी ने फोन के माध्यम से अपनी बात रखी,वहीं शामिल कवयित्रियों में पुष्पा राही जी ने भी ऑनलाइन संबोधन और काव्य पाठ किया।इस पुनीत साहित्यिक अवसर के साक्षी बने बंगलोर से जीना चाहता हूं मरने के बाद फाउंडेशन के चैयरमैन श्री रास दादा रास, उत्कर्ष साहित्यिक संस्था के अध्यक्ष श्री रामकिशोर उपाध्याय , दिल्ली कविता मण्डल से प्रेम बिहारी मिश्र जी,साहित्यिक संचेतना से कमांडो समोद सिंह चरौरा औऱ डॉ स्वदेश चरौरा जी।परम्परा साहित्यिक संस्था से राज निगम जी और इंदु निगम जी।इसके अलावा इस अवसर पर गोविंद गज़ब और उत्कर्ष उत्तम जी राय बरेली से,प्रेरणा दर्पण साहित्यिक और सांस्कृतिक मंच से करिश्मा सोनीअभिजीत अयंक, पंकज जैन।इस कार्यक्रम को दो सत्रों में आयोजित किया गया पहले सत्र में पुस्तकों का लोकार्पण और दूसरे सत्र में भोजनावकाश के बाद सभी उपस्थित वरिष्ठ और नवांकुर रचनाकारों ने अपनी अपनी कविताओं से सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया।कार्यक्रम का बहुत ही शानदार आयोजन संस्था के संरक्षक डॉ सी एम भगत ने किया। फार्म हाउस में स्थित झूलों का सभी ने आनंद लिया।यह कार्यक्रम अत्यंत ही मनोहारी रहा ,कार्यक्रम के द्वितीय सत्र का संचालन करिश्मा सोनी और पंकज जैन ने किया। अंत मे संस्था के महासचिव हरिप्रकाश पाण्डेय ने सभी को धन्यबाद ज्ञापित किया।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *