कितना बदल गया जमाना हॉस्पिटल में बेड पर पड़े पड़े रमा ये सोच रही थी कि सचमुच बदल गया जमाना क्योंकि अगर पहले वाला समय होता तो शायद आज वो जिंदा नहीं होती।इसी बदलते परिवेश को वो दिन रात कोसा करती थी ,बहु को तो सुनाती ही थी यहाँ तक […]

“हिंग्लिश हमारी स्वरचित भाषा है” “स्वरचित” यह शब्द आजकल बड़ा एक्टिव हो गया है। हर कलमधारी, जिसे अक्षर ज्ञान है, वह कापीराइट का साइन लिए फिरता है। हर तरफ़ अपनी ओरिजिनलिटी दिखाने की गहमागहमी है। अरे प्रोपराइटर भी भरे पड़े हैं। “प्रोपराइटर” समझे क्या? अरे प्रोपर्टी नहीं भाई साहब, उस […]

“अंतरराष्ट्रीय हिंदी दिवस” पर मेरी रचना :-हमें हिंदी कहते हैं लोग, हमें हिंदी कहते हैं लोग,भारत ही नहीं विदेशों में भी, होता हमारा प्रयोग, संस्कृत माता है मेरी , ऊर्दू है मेरी बहना,हर भाषा से मिल जुलके , आता हमें है रहना,सबके विकास में किया है हमने,हरदम ही सहयोग,हमें हिंदी […]

हिंदी बने हमारी राष्ट्रभाषा है हर हिंदुस्तानी की आज यही अभिलाषा,हिंदी बने हमारी अपनी राष्ट्रभाषा lहिंदी है महान अपनी आन बान और शान,नहीं चाहिए हमें अब उधार की भाषा l अपनी भाषा संस्कृति से होती अलग पहचान,अपनी भाषा से उन्नति की चढ़ेंगे हम सोपान् lनहीं करेंगे अब अंग्रेजी की हम […]

“स्वस्थ हम बेहतर आज और कल” भगतचंद्रा अस्पताल द्वारा 13 अगस्त शनिवार को गोयल क्लिनिक गौशाला नजफ़गढ़ रोड में 1993 वे स्वास्थ्य कैंप का आयोजन किया गया इस कैंप में कुल33 पेशंट शामिल हुए | आज तक कुल 1 लाख, 35 हजार ,283 पेशंट इस निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का लाभ […]

निशुल्क स्वास्थ्य शिविर भगतचंद्रा अस्पताल द्वारा 4 अगस्त वीरवार को झाडोदा कलां विलेज में 1984 वे स्वास्थ्य कैंप का आयोजन किया गया इस कैंप में कुल 58 पेशंट शामिल हुए | आज तक कुल 1 लाख, 35 हजार ,852 पेशंट इस निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का लाभ ले चुके है स्वास्थ्य […]

दिनांक 31 जुलाई 2022 को दिल्ली के रोहिणी में स्थित टेकनिया ऑडिटोरियम में“नवरंग – 2022” सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन श्री रामपरम संगीत एवं कला फाउंडेशन के द्वारा किया गया। संस्था की अध्यक्षा अंशअनू (अनुपमा ) एवं सचिव डॉ अमित कुमार राय जी ने बताया कि यह कार्यक्रम हमने शास्त्रीय संगीत […]